Breaking News
Home / breaking / 2 महीने से घर में रखी थी पति की लाश, उम्मीद थी कि जिंदा हो जाएगा

2 महीने से घर में रखी थी पति की लाश, उम्मीद थी कि जिंदा हो जाएगा

मल्लापुरम। उसका पति 2 महीने पहले ही मर चुका था मगर उसका अंतिम संस्कार नहीं किया। उसकी लाश के साथ पत्नी और 3 बच्चे सामान्य रूप से रह रहे थे। सिर्फ इस उम्मीद में कि वह फिर से जिन्दा होगा।

यह सनसनीखेज मामला है केरल के मल्लापुरम इलाके का। यहां सईद (51) अपनी पत्नी, एक बेटा और दो बेटियों के साथ रहता था। सईद की लगभग 2 महीने पहले मौत हो गई थी। किसी तांत्रिक उसे बताया कि सईद फिर से जिन्दा हो जाएगा।

इस पर पत्नी ने उसकी मौत के बारे में किसी को नहीं बताया और लाश घर में ही रख ली। पत्नी और बच्चों को भरोसा था कि दुआओं के जरिए सईद वापस जिंदा हो जाएगा। इसके लिए वे लोग सईद के शव के पास दुआ करते थे।

लाश पर छिड़कते थे इत्र

सईद की पत्नी उसकी लाश पर इत्र छिड़कते रहते ताकि बाहर बदबू न फैले। कुछ दिनों बाद सईद का भाई किसी काम से उसके घर आया।

लेकिन वहां घर बाहर से बंद था। उसने पड़ोसियों से पूछताछ की तो पता चला कि काफी समय से किसी ने सईद को नहीं देखा है। जबकि घर के बाकी लोग भी कभी-कभी बाहर आते हैं। इस पर सईद के भाई को अंदेशा हुआ। उसने तुरंत पुलिस को इसकी सूचना दी।

सड़ी-गली लाश देखकर उड़े होश

 

पुलिस ने जैसे ही घर का दरवाजा तोड़ा, अंदर का नजारा देख सबके होश उड़ गए। भीतर महिला और उसके बच्चे एक सड़ी हुई लाश के पास बैठे थे। लाश पूरी तरह कंकाल में तब्दील हो चुकी थी। पुलिस ने सभी लोगों को हिरासत में लेते हुए लाश को पोस्टमार्टम के लिए भेजा।

पुलिस महिला और उसके बच्चों से इस मामले में पूछताछ कर रही है। साथ ही उनकी मानसिक स्थिति की भी जांच कराई जा रही है।

Check Also

17 साल की लड़की को ब्वॉयफ्रेंड ने पिलाई शराब, दोस्तों के साथ किया गैंगरेप

भागलपुर। बिहार के भागलपुर जिले के आदमपुर थाना क्षेत्र में एक नाबालिग लड़की ने अपने …