Breaking News
Home / breaking / सोती महिलाओं की चोटी काटने की शरारत, यह सच आया सामने

सोती महिलाओं की चोटी काटने की शरारत, यह सच आया सामने


अजमेर। राजस्थान के ग्रामीण इलाकों में महिलाओं की चोटी काटने और उनके शरीर पर कुमकुम से त्रिशूल की आकृति बनाने की अफवाहों के बीच एक रोचक मामला सामने आया है।

एक महिला ने खुद ही अपनी चोटी काट ली और बेहोश होने का नाटक करने लगी। अस्पताल में डॉक्टरों ने उसका झूठ पकड़ लिया तो ऐसी सच्चाई सामने आई जिसे जानकर आप भी हंस पड़ेंगे।
दरअसल शुक्रवार को ब्यावर के राजकीय अमृतकौर अस्पताल में जवाजा क्षेत्र से आए परिजन ने एक महिला को भर्ती कराया।

 

परिजन का कहना था कि महिला घर में बेहोश मिली। पास ही उसकी चोटी कटी पड़ी थी और हाथ पर कुमकुम से त्रिशूल बना हुआ था। यह देखकर परिजन घबरा गए और उसे अस्पताल में भर्ती करा दिया।

यूं पकड़ी गई चालाकी

अस्पताल में जब डॉक्टरों ने महिला की जांच की तो तबीयत सही मिली। इस पर डॉक्टरों ने परिजन को बाहर भेज दिया। पीछे से अकेले में महिला से पूछा कि वह बेहोशी का नाटक क्यों कर रही है। मगर महिला ने कोई जवाब नहीं दिया।

इस पर डॉक्टरों ने पुलिस को बुलाने की धमकी दी। पुलिस का नाम सुनते ही महिला कांपने लगी। उसने बताया कि वह घर के कामकाज को लेकर परेशान रहती है। इससे बचने के लिए ही यह सब किया है। चूंकि इन दिनों अज्ञात व्यक्तियों द्वारा महिलाओं के बाल काटने की अफवाह गर्म है, इसलिए उसने मौके का फायदा उठाने की सोची।

 

उसने खुद ही अपनी चोटी काटी…खुद ही ललाट पर तिलक लगाया और खुद ही अपने शरीर पर कुमकुम से त्रिशूल बनाकर बेहोश होने का नाटक किया। ताकि घरवाले उसे ऊपरी हवा की चपेट में मानकर कामकाज कराना बन्द कर दे।

 

बहरहाल अपनी कलई खुलने पर वह महिला अस्पताल से खिसक गई।
मालूम हो कि इन दिनों यह अफवाह तेजी से फैल रही है कि कोई अज्ञात व्यक्ति घर मे सो रही महिलाओं की चोटी काटकर पटक जाता है।

 

हालांकि उन महिलाओं के दावों में कितना दम है, यह तो वे ही जानें। डर और अनिष्ट की आशंका के चलते लोग अपने घर के बाहर मेहंदी और कुमकुम से भरे हाथ की छाप लगा रहे हैं ताकि उनके घर मे कोई अला-बला न आए।

Check Also

श्री नामदेव भवन में रमेगा गरबा, मातारानी की भक्ति में झूमेंगे समाजबन्धु

नामदेव न्यूज डॉट कॉम अजमेर। भीलवाड़ा की संजय कॉलोनी, विद्युत नगर स्थित श्री नामदेव भवन …